ज्ञानसागर ब्लॉग में आपका हार्दिक अभिनंदन है !! किसी भी सुझाव,विचार,विमर्श के लिए संपर्क करे 8802939520


एक सामाजिक चिंतन - प्यास और भूख सबको लगती है ! | Gyansagar ( ज्ञानसागर )

एक सामाजिक चिंतन - प्यास और भूख सबको लगती है ! | Gyansagar ( ज्ञानसागर )




जैसा की लेख का विषय है - प्यास और भूख सबको लगती है ! उससे हम और आप समझ सकते है कि कैसा लगता होगा जब आपको भूख लगे और आप अपनी बात सामने वालो को समझा भी न सके ! मेरे रिश्तेदार में ही एक मेरी बहन है जो दिव्यांग है और उसके कष्ट मुझे सहन नही होते लेकिन उसकी पीड़ा को मैंने भी महसूस किया है ! मै जानता हूँ कि जिस बच्ची को गोद में कभी खिलाया था , वो बढ़ी होकर एक ऐसी बीमारी का शिकार होगी जो कि लाइलाज है ! उसके भूख और प्यास को वो उन भाषा में चिल्लाकर य ऐसे आवाज निकालकर बोलती थी जिसका अर्थ सिवाय उसके आस-पास रहने वाले लोगो के कोई न समझ सके !! अब ये भाषा की समस्या का हाल दिव्यांग के साथ साथ बेजुबान पशुओं का भी है !! मुझे मालूम है की सड़को पर चलते वक्त कूड़ा खाती गायों को मै ताजा हरा चारा नही खिला सकता पर उनकी स्थिति से अवगत कराकर मानव हितो की दुहाई और संदेश देने वाले सामर्थ्य संक्षम लोगो का ध्यान अपनी ओर आकर्षित जरुर कर सकता हूँ !! इसीलिए इस लेख को लिखकर जो बन सकता है वो प्रयास इसमें किया है !! जब जब सक्षम होता हूँ कुछ खिला तो देता हूँ पर आज के वर्तमान समय में , वो भी तब जब मौसम गर्मी का हो ! पशुओ ने कूड़ा खाकर पेट की भूख का समझौता तो कर ही लिया है !! पर पानी साफ मिलना काफी मुश्किल हो गया है ! इंसान के लिए निःशुल्क पानी जब नही मिलता हो तो पशुओ के लिए तो बहुत बड़ी बात है ! अगर हम अपने सामर्थ्य य पोलिटिकल एप्रोच से थोड़ा भी कुछ कर पाए तो बहुत अच्छा !! अगर इन घुमंतू पशुओं के लिए चारा न हो पाए तो कम से कम पीने योग्य पानी की अवश्य व्यवस्था करवा दे जैसा की उप्पर तस्वीर में आप देख सकते है !! क्योंकि जिस तरह प्रकृति ने सबको जीवन जीने का अधिकार दिया है उसी प्रकार उसके प्राकृतिक संसाधन पर भी सबका समान अधिकार ही होना चाहिए ! गर्मी में प्यास किसको नहीं लगता !! जितने भी समाज सेवी ये लेख पढ़ रहे है य पशु गैर सरकारी संस्थायें उनसे उम्मीद है कि मुहीम में वो एक जबर्दस्त पहल लेकर कार्य करे जिससे ऐसे असंतुलन व् हृदय को द्रवित करने वाले दृश्य न देखने पड़े !! पानी के प्यास से कुत्ते बिल्लियों को नॉएडा में मरते देखा गया है !! जिसका प्रत्यक्षदर्शी मै खुद हूँ !! कृपया आगे आये और इन मासूम बेजुबान जानवरों के बारे में भी सोचे !!
पसंद आये तो शेयर जरुर करे 
सारांश सागर

सारांश सागर द्वारा प्रकाशित किया गया

अनुभव को सारांश में बताकर स्वयं प्रेरित होकर सबको प्रेरित करना चाहता हूँ !             


No comments

Powered by Blogger.