ज्ञानसागर ब्लॉग में आपका हार्दिक अभिनंदन है !! किसी भी सुझाव,विचार,विमर्श के लिए संपर्क करे 8802939520 ! अपने व्यापार य सर्विस की वेबसाइट बनवाने हेतु संपर्क करे !

Header Ads



अरे रे अरे ये क्या हुआ सॉंग फ्रॉम फिल्म दिल तो पागल है | Gyansagar ( ज्ञानसागर )




अरे रे अरे ये क्या हुआ - Are Re Are Ye Kya Hua
मूल गीत तो फिल्म दिल तो पागल है के लिए
संगीतकार उतम सिंह जी के निर्देशन में उदित नारायण व लता जी ने गाया है !
गीत आनंद बक्षी जी का लिखा हुआ है ।
अरे रे अरे ये क्या हुआ, मैने ना ये जाना
अरेरे अरे बन जाए ना, कहीं कोई अफ़साना
अरेरे अरे कुछ हो गया, कोई ना पहचाना
अरेरे अरे बनता है तो, बन जाए अफ़साना
हाथ मेरा थाम लो साथ जब तक हो
बात कुछ होती रहे बात जब तक हो
सामने बैठे रहो तुम रात जब तक हो
नाम क्या दे क्या कहें, दिल के मौसम को
आग जैसे लग गई आज शबनम को
ऐसा लगता है किसी ने छू लिया हम को
तुम चले जाओ ज़रा हम संभल जाए
धड़कने दिल की कहीं ना मचल जाए
वक्त से आगे कहीं ना हम निकल जाए
हम में तुम में कुछ तो है, कुछ नहीं है क्या
और कुछ हो जाए तो, कुछ यकीन है क्या
देख लो ये दिल जहाँ था, ये वही है क्या

Saransh Sagar


सारांश सागर

सारांश सागर द्वारा प्रकाशित किया गया

अनुभव को सारांश में बताकर स्वयं प्रेरित होकर सबको प्रेरित करना चाहता हूँ !             


No comments

Powered by Blogger.