ज्ञानसागर परिवार में आपका हार्दिक अभिनंदन है !! किसी भी सुझाव,विचार,विमर्श के लिए संपर्क करे 8802939520


Motivational Stories

110/शिक्षाप्रद कहानी/slider-tag

एक भावनापूर्ण कविता - प्यार है य दोस्ती ये बता न सके | Gyansagar ( ज्ञानसागर )

7:20 pm 0

   प्रस्तुत कविता रौशनी कुमारी द्वारा रचित है जो ( खोड़ा ) गाजियाबाद क्षेत्र की निवासी है व् राजकीय डिग्री कॉलेज की छात्रा व् सामाजिक क...

एक शिक्षाप्रद कहानी - अंकल मुझे टिकट लेना है | Inspirational Story | Gyansagar ( ज्ञानसागर )

6:04 pm 0

 ये कहानी कोई काल्पनिक नही बल्कि सत्य घटना पर आधारित है !! आज से लगभग ५ वर्ष पूर्व दिल्ली के सरकारी स्कूल ( न्यू कोंडली ) में महेश ना...

मैं अपने ब्लॉगस्पॉट वेबसाइट को और बेहतर कैसे बना सकता हूँ ?? | Gyansagar ( ज्ञानसागर )

3:20 pm 0

सर्वप्रथम ये प्रश्न एक  कौरियन मित्र प्रवीण मारुकोलू  द्वारा क्योरा पर पूछा गया ! जिसको हिंदी में बताने का मेरा मन किया ! अब आते है मूल प्...

बच्चो व् माता-पिता के लिए स्वर्ग क्या है ?? | Gyansagar ( ज्ञानसागर )

11:25 am 0

बच्चों के लिये भगवान,संसार और स्वर्ग वो माता-पिता है जो अपने बच्चों के देख-भाल और पालन पोषण की कोई कमी नही रखते ! संसार के छोटे-बड़े,अ...

रेल यात्रा के दौरान यात्रियों ने मनाया इस अंदाज में स्वतंत्रता दिवस | Gyansagar ( ज्ञानसागर )

8:54 am 0

 जहाँ पूरा देश स्वतंत्रता दिवस के मौके पर जश्न मना रहा था वही कुछ रेल यात्री जों कि ट्रेन संख्या 12897 ( सियालदह से अजमेर जाने वाली...

एक सामाजिक चिंतन - आपका Soulmate ही आपका जीवन साथी हो कोई और नही | Social Concern | Gyansagar ( ज्ञानसागर )

9:08 am 0

Dear Soulmate कहने वाले आज तमाम लोग अपने Soulmate य तो बदल चुके है य फिर बदल रहे है ! सोचकर अफ़सोस और दुःख तो होता ही है और दया,तरस और हैरत ...

एक शिक्षाप्रद कहानी - मूर्ख कौन ?? | Gyansagar ( ज्ञानसागर )

11:49 am 0

किसी गांव में एक सेठ रहता था ! उसका एक ही बेटा था, जो व्यापार के काम से परदेस गया हुआ था. सेठ की बहू एक दिन कुएँ पर पानी भरने गई. घड़ा जब ...

एक प्रेरणादायक कहानी - सब कुछ कॉपी-पेस्ट हो सकता है लेकिन चरित्र और व्यवहार नही | Gyansagar ( ज्ञानसागर )

11:59 pm 0

अब्दुल ने २ ही महीने पहले बारवीं पास की थी लेकिन कम अंक प्राप्त होने के कारण उसका दाखिला सरकारी कॉलेज में हो न सका !! क्योंकि गया जो क...

भारतीय सैनिक के जीत का प्रतीक है श्री तनोट माता का मंदिर | Gyansagar ( ज्ञानसागर )

9:01 pm 0

कितने ही देवी देवता और इनमें इतनी ही अपार श्रद्धा कि भक्त अपने भगवान पर इतना भरोसा करते हैं कि  उनके लिये कुछ भी कर गुजरने को तैयार रहते ह...

Powered by Blogger.